OneClick Hindi

Internet ki jankari Hindi me

यूनिक डिसेबिलिटी आईडी कार्ड Unique Disability ID Card कैसे बनाये
Education

यूनिक डिसेबिलिटी आईडी कार्ड Unique Disability ID Card कैसे बनाये

यूनिक डिसेबिलिटी आईडी कार्ड Unique Disability ID Card कैसे बनाये: नमस्कार दोस्तों कैसे है आप सभी आशा करता हु कि आप सभी बहुत अच्छे होंगे। दोस्तों आज के इस लेख में यूनिक डिसेबिलिटी आईडी कार्ड Unique Disability ID Card या यूनिक विकलांगता आईडी कार्ड के लाभ, यूनिक विकलांगता आईडी कार्ड योजना के लिए पात्रता, यूनिक विकलांगता आईडी कार्ड के लिए आवश्यक दस्तावेज, यूनिक विकलांगता आईडी कार्ड का ऑनलाइन पंजीकरण आदि के बारे विस्तार से बताऊंगा। |

यूनिक डिसेबिलिटी आईडी कार्ड Unique Disability ID Card सभी दिव्यांग/विकलांग व्यक्तियों के लिए होता है। जिसका लाभ सिर्फ उन्ही को मिलता है। जिसका उपयोग करके वह कुछ सरकारी योजना का लाभ ले सकते है।

यूनिक डिसेबिलिटी आईडी कार्ड Unique Disability ID Card?

दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग द्वारा केंद्र सरकार ने अद्वितीय विकलांगता आईडी कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किए हैं। जिसके तहत सरकार दिव्यांग/विकलांग  व्यक्तियों को यूनिक विकलांगता आईडी कार्ड और विकलांगता प्रमाण पत्र जारी करेगी। इस ऑनलाइन पंजीकरण की सुविधा का लाभ खास तौर पर दिव्यांग/विकलांग लोगो के लिए शरू की गई है। जिसके मदद से दिव्यांग/विकलांग लोग ऑनलाइन पंजीकरण, आवेदन स्तिथि, और ई-विकलांगता / e-UDID Card ऑनलाइन डाउनलोड कर सकते हैं।

यह आईडी कार्ड के प्रयोग से दिव्यांग/विकलांग लोग बस में बिना पैसे कही भी जा सकेंगे। यह आईडी कार्ड पुरे देश भर में मान्य होगा। दिव्यांग/विकलांग आईडी कार्ड को बनाने की जिम्मेदारी स्वास्थ विभाग को सौंपी गयी है। UDID कार्ड के लिए रजिस्ट्रेशन का कार्य देश भर में वार्ड/ब्लाकवार कैंप लगाकर किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त यूनिक डिसेबिलिटी आईडी पोर्टल के माध्यम से भी ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है।,

यूनिक विकलांगता आईडी कार्ड के लाभ?

तो चलिये अब आपको यूनिक डिसेबिलिटी आईडी कार्ड Unique Disability ID Card के लाभ के बारे में बताते है।

1.)  दिव्यांग/विकलांग से संबंधित सभी जानकारी एक यूनिक आईडी कार्ड (Unique Disability ID Card) में होगी।

2.) यह एक बहुउद्देश्य स्मार्ट कार्ड होगा। जिसके बाद दिव्यांग/विकलांग को किसी भी प्रकार का प्रमाण पत्र लेकर नहीं घुमना पड़ेगा।

3.)  इसमें दिव्यांग से संबंधित सभी जानकारी होगी। जैसे दिव्यांग/विकलांग व्यक्ति का नाम, पता, डेट ऑफ़ बर्थ, आधार कार्ड नंबर, कार्ड जारी करने की तिथि, दिव्यांग/विकलांगता का प्रकार,       व्दिव्यांग/विकलांगता का प्रतिशत और दिव्यांग/विकलांगता कार्ड परमानेंट है या कुछ समय के लिए जारी किया गया है। इसके लिए दिव्यांगजन शशक्तिकरण विभाग में जिसमे दिव्यांग/           विकलांग व्यक्ति का डाटा डालते ही उसके कार्ड की सभी सम्बंधित जानकारी मिल जाती है।

4.) लाभार्थियों को संबंधित प्राधिकरण द्वारा उल्लिखित UDID ​​कार्ड की विभिन्न प्रतियां नहीं बनानी होंगी।

5.) दिव्यांग/विकलांग लोगों के लिए सत्यापन और पहचान का एक एकल दस्तावेज होगा और निकट भविष्य में उनके लिए कई लाभ प्राप्त करेगा।

6.) UDID ​​कार्ड कार्यान्वयन के पदानुक्रम के सभी स्तरों – गाँव स्तर, ब्लॉक स्तर, जिला स्तर, राज्य स्तर और राष्ट्रीय स्तर पर लाभार्थी की शारीरिक और वित्तीय प्रगति की ट्रैकिंग में मदद करेगा।

यूनिक विकलांगता आईडी कार्ड योजना के लिए पात्रता ?

दिव्यांग/विकलांग व्यक्ति यूनिक डिसेबिलिटी आईडी कार्ड Unique Disability ID Card के लिए कौन कौन पात्र होंगे।

1.) दिव्यांग/विकलांग व्यक्ति जो चलने में असहाय होना चाहियें। जिसके अन्तर्गत दिव्यांग/विकलांग व्यक्ति का दिव्यांग प्रमाण पत्र कम से कम 40 प्रतिशत और अधिकतम 100 प्रतिशत होना चाहियें। और जिन दिव्यांग/विकलांग व्यक्ति के पास दिव्यांग प्रमाण पत्र नहीं है। वह नई आवेदन कर अपना दिव्यांग प्रमाण पत्र बनवा सकते है।

2.) दृष्टि हीन व्यक्ति होना चाहियें।
3.) सुनने में असमर्थ व्यक्ति होना चाहियें।
4.) बोलने में असमर्थ व्यक्ति होना चाहियें।
5.) लम्बे समय से तंत्रिका सम्बन्धी रोग से पीड़ित होना चाहियें।
6.) मानसिक रोगी होना चाहियें।
7.) रक्त सम्बन्धी विकारों से पीड़ित होना चाहियें।
8.) बहु विकलांगता से ग्रस्त होना चाहियें।

यूनिक डिसेबिलिटी आईडी कार्ड Unique Disability ID Card कैसे बनाये
यूनिक डिसेबिलिटी आईडी कार्ड Unique Disability ID Card कैसे बनाये

यूनिक डिसेबिलिटी आईडी कार्ड Unique Disability ID Card के लिए आवश्यक दस्तावेज?

दिव्यांग/विकलांग व्यक्ति के पास यूनिक डिसेबिलिटी आईडी कार्ड बनवाने के लिए आवश्यक दिव्यांग/विकलांग व्यक्ति का आधार कार्ड, पुराना दिव्यांग प्रमाण पत्र और एक फोटो, sign/अंगूठे का निशान साथ ही उस दिव्यांग/विकलांग व्यक्ति के घर का पते की जानकारी होना आवश्यक है।

यूनिक डिसेबिलिटी आईडी कार्ड Unique Disability ID Card का ऑनलाइन पंजीकरण कैसे कराये?

यूनिक डिसेबिलिटी आईडी कार्ड बनवाने के लिए दिव्यांग/विकलांग व्यक्ति खुद व जनसेवा केंद्र के माध्यम से कर/करा सकता है।

1.) यूनिक डिसेबिलिटी आईडी कार्ड की आधिकारिक वेबसाइट www.swavlambancard.gov.in पर जाएं। यहाँ आपको बहुत सारे ऑप्शन देखने को मिल जायेंगे।

2.) इसके बाद मुखपृष्ठ पर “विकलांगता प्रमाणपत्र और UDID Card के लिए आवेदन करें” विकल्प पर क्लिक करें।

3.) आप सीधे इस लिंक पर क्लिक कर सकते हैं। जिसके बाद वह पेज खुल जायेगा।

4.) तत्पश्चात आपकी स्क्रीन पर Unique Disability ID Card पंजीकरण फ़ॉर्म / विकलांगता प्रमाणपत्र प्रपत्र दिखाई देगा। जिसे आप डाउनलोड करके भरना चाहते है। या डायरेक्ट ऑनलाइन ही भर सकते है। अब यहाँ आपको अपने से सम्बंधित सभी जानकारी देनी होगी। जैसे नाम, पिता का नाम, उम्र, माता का नाम, मोबाइल नंबर, ब्लड ग्रुप (भरना जरुरी नहीं है),

आप खुद पर या किसी और पर निर्भर है उनका नाम, अपना फोटो, sign/thumb, अपने घर का पता, जिसमे गाँव, ब्लॉक,वार्ड, स्टेट,अपना जिला, अपना पिनकोड साथ ही आधार कार्ड की प्रति अपलोड करनी होगी। और ‘NEXT’ बटन दबाएं।

5.) इसके बाद, ‘विकलांगता विवरण’, ‘सम्बन्धी डिटेल पूछी जाएगी। अगर आपके पास पुराना दिव्यांग प्रमाण पत्र है तो आपको yes पर क्लिक करके आगे की जानकारी भरनी होगी। जैसे पुराने दिव्यांग प्रमाण पत्र का रजिस्ट्रेशन नंबर, विकलांगता का प्रतिशत, पुराने दिव्यांग प्रमाण पत्र का जारी करने की तिथि, और किसके द्वार जारी किया गया है उसका विबरण भरे, साथ ही अब आपको अपने विकलांगता से सम्बंधित जानकारी जैसे आप किस चीज़ से विकलांग है।जैसे विकलांगता की श्रेड़ी और उसमे आप किस चीज़ से विकलांग है जैसे आँख, हाथ, पैर, कान से सम्बंधित जानकारी भरनी है। और ‘NEXT’ बटन दबाएं।

6.) अब यहाँ सिर्फ ऊपर टिक करे और अपना आधार कार्ड नंबर फील करे, साथ ही अगर आप govt के साथ अपना आधार का डाटा शेयर करना चाहते  तो उसपे टिक करे अन्यथा उसके बाद नीचे कैप्चा कोड डाले। फिर, “सबमिट करें” और आवेदन प्रक्रिया पूरी करें।अब ऑनलाइन करने के बाद आपको एक पर्ची मिलेगी। जिसे आपको संभलकर रखना है।

आपका आवेदन अब स्वास्थ्य विभाग के पोर्टल पर पहुंच गया होता है। अब अगर आपका सरकारी हॉस्पिटल आपके घर से पास में है तो आपको जो पर्ची मिली है उसे लेके अपने जिला हॉस्पिटल पहुंच जाये एक पर्ची मिलेगी। और जिला हॉस्पिटल में भी वह जाना होगा जहा विकलांग बोर्ड होता है या यु कहु की जहा विकलांग सर्टिफिकेट बनते है।

वह जाकर आपको उस पर्ची को सम्बंधित कर्मचारी को दे देने है। जो इसे वेरीफाई करेगा और 1 से 2 दिन के भीतर ही आपका यूनिक डिसेबिलिटी आईडी कार्ड  generate हो जायेगा। जिसे आप उस पर्ची के माध्यम से निकलवा सकते है। जिसमे आपका नया दिव्यांग प्रमाण पत्र और यूनिक डिसेबिलिटी आईडी कार्ड होगा। 

नया दिव्यांग प्रमाण पत्र के लिए कैसे आवेदन करे ?

दिव्यांग/विकलांग लोगों के लिए नए दिव्यांग प्रमाण पत्र बनवाने के लिए ऊपर दिए गए यूनिक डिसेबिलिटी आईडी कार्ड Unique Disability ID Card का ऑनलाइन पंजीकरण कैसे कराये? का पूरा प्रक्रिया एक सामान रहेगी 

1.) इसके बाद, ‘विकलांगता विवरण’, ‘सम्बन्धी डिटेल पूछी जाएगी। यहाँ आप आपसे पूछा जायेगा कि आपके पास दिव्यांग प्रमाण पत्र है तो आपको No पर क्लिक करके आगे की जानकारी भरनी होगी। जैसे पुराने दिव्यांग प्रमाण पत्र का रजिस्ट्रेशन नंबर, विकलांगता का प्रतिशत, पुराने दिव्यांग प्रमाण पत्र का जारी करने की तिथि, और किसके द्वार जारी किया गया है उसका विबरण भरे, साथ ही अब आपको अपने विकलांगता से सम्बंधित जानकारी जैसे आप किस चीज़ से विकलांग है।जैसे विकलांगता की श्रेड़ी और उसमे आप किस चीज़ से विकलांग है जैसे आँख, हाथ, पैर, कान से सम्बंधित जानकारी भरनी है। और ‘NEXT’ बटन दबाएं।

2.) अब यहाँ सिर्फ ऊपर टिक करे और अपना आधार कार्ड नंबर फील करे, साथ ही अगर आप govt के साथ अपना आधार का डाटा शेयर करना चाहते  तो उसपे टिक करे अन्यथा उसके बाद नीचे कैप्चा कोड डाले। फिर, “सबमिट करें” और आवेदन प्रक्रिया पूरी करें।अब ऑनलाइन करने के बाद आपको एक पर्ची मिलेगी। जिसे आपको संभलकर रखना है।

आपका आवेदन अब स्वास्थ्य विभाग के पोर्टल पर पहुंच गया होता है। अब अगर आपका सरकारी हॉस्पिटल आपके घर से पास में है तो आपको जो पर्ची मिली है उसे लेके उत्तर प्रदेश के बरेली के निवासी सोमवार को जिला के सरकारी हॉस्पिटल पहुंच जाये (अन्य जिले व अन्य भारत के अन्य स्टेट के लोगो को अपने सरकारी हॉस्पिटल या जिला दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग से इसकी जानकारी प्राप्त हो सकती है )।  जहा डॉक्टर आपकी जाँच करता है। जिसके बाद आपका नया दिव्यांग प्रमाण पत्र 1 सप्ताह के भीतर जारी कर दिया जाता है जिसे आप किसी भी जान सेवा केंद्र व खुद भी निकलवा सकते है। इसमें आपका यूनिक डिसेबिलिटी आईडी कार्ड  generate हो जायेगा। जिसे आप उस पर्ची के माध्यम से निकलवा सकते है। जिसमे आपका नया दिव्यांग प्रमाण पत्र और यूनिक डिसेबिलिटी आईडी कार्ड होगा।

यूनिक डिसेबिलिटी आईडी कार्ड Unique Disability ID Card के लाभ?

यूनिक डिसेबिलिटी आईडी कार्ड Unique Disability ID Card के अगर लाभ की बात की जाये तो इसमें कोई भी दिव्यांग व्यक्ति अपने जिले से सम्बंधित बस में फ्री यात्रा कर सकता है। जैसे अगर कोई बस उत्तर प्रदेश के बरेली जनपद से है और वह बरेली से दिल्ली तक जाता है तो वह बिलकुल मुफ्त में यात्रा कर पायेगा इस कार्ड के मदद से। अगर किसी परिस्थियों में कोई बस वाला आपसे पैसे मांगता है तो आप बस के पीछे लिखे टोल फ्री नंबर पर उसकी शिकायत भी कर सकते है। जिसके चलते उस बस वाले पर सख्त कार्यवाही की जायगी। वही अगर कोई दिव्यांग व्यक्ति आँखों से दिव्यांग है तो उसके लिए बस में उसके साथ एक अन्य व्यक्ति बिलकुल फ्री में जा सकता है।

अगर इसमें किसी को कोई सवाल पूछना है तो वह मुझसे कमेंट में पूछ सकता है।

close

Oh hi there ????
It’s nice to meet you.

Sign up to Receive Awesome Content in your Inbox

We don’t spam! Read our privacy policy for more info.

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *